Oily skin ki care kaise kare – Tips of oily skin and acne

Oily skin ki care kaise kare - Tips of oily skin and acne

ऑयल स्किन के लिए अच्छा होता है. स्किन को सॉफ्ट रखता है, सूखने से बचाता है और स्क्रीन पर रिंकल्स भी नहीं पड़ने देता है लेकिन हद से ज्यादा ऑयल भी स्किन के लिए ठीक नहीं है अत्यधिक ऑयल हवा से धूल मिट्टी धुआं पकड़ता है पोर्स को ब्लॉक करता है. फंगस और बैक्टीरियल इनफेक्शंस को पनपने में भी मदद करता है इसलिए जिन लोगों की स्किन बहुत ऑयली होती उन्हें अक्सर फेस पर फंगल इन्फेक्शन और पिंपल्स हो जाते हैं. ऑयली स्किन की समस्या युवा अवस्था में जब हमारी बॉडी में हारमोंस लेवल तेजी से बढ़ते हैं बहुत ज्यादा होती है. कभी भी 20 से 30 साल की उम्र तक ऑयली समस्या रहती है. कई बार लोगों में किसी बीमारी के कारण बॉडी में कुछ असंतुलन हो जाता है या फिर जिन लोगों को किसी कारण से हार्मोन ट्रीटमेंट लेना पड़ता है उनकी स्किन बहुत ऑयली हो जाती है.

Oily skin ki care kaise kare - Tips of oily skin and acne

इस कारण ४० से 50 साल की उम्र में भी पिंपल्स होने लगते हैं.

यदि स्किन ऑयली हो रही है तो हमें क्या करना चाहिए ?

सबसे पहले फेस को बार-बार स्ट्रांग साबुन या मेडिकेटेड साबुन और फेस वॉश से नहीं धोना चाहिए. हमेशा जेंटल शॉप जैसे पीयर्स सोप या सिटाफील लोशन जैसे नॉनस्टॉप केंद्र से ही दिन में दो बार धोना अच्छा है यदि फिर भी ऑयल ज्यादा आ रहा है तो सुबह ऑयल्ड रिमूविंग फेस वॉश जैसे 2% सैलिसिलिक एसिड या 4% बेंजऑयल पैरोक्साईड फेस वॉश से फेस वॉश करना चाहिए. फेस वॉश करने के लिए गर्म पानी का इस्तमाल करना चाहिए. इसके बाद एक ऑयल क्रीम फ्री मॉइश्चराइजर जरूर लगाना चाहिए. मॉइश्चराइजर हमारी स्किन को डिहाइड्रेशन और सूखने से बचाता है. फेश को तौलिए से रगड़ना नही चाहिए क्योंकि ऑइली स्किन पहले से ही मुलायम होती है और रगड़ने से छील जाती है उस में जलन होने लगती है और फिर उसमें आसानी से फंगस और बैक्टीरिया इन्फेक्शन भी लग जाते.

की की उन्हें मेकअप नहीं लगाना चाहिए और हैवी मेकअप से ब्लॉक हो जाते हैं और पिंपल्स निकलने लगते हैं मेकअप हमेशा लाइट और अच्छी

ज्यादा मेकअप ऑइली स्कीन के लिए अच्छा नहीं होता हैं.

जिन लोगो की स्कीन ऑयली हों उन्हे ज्यादा मेकअप नहीं लगाना चाहिए. ज्यादा मेकअप से पोर्स ब्लाक हो जाते हैं और पिंपल्स निकल जाते हैं. मेकअप हल्का और उच्च क्वालिटी का लगाना चाहिए. Low quality ke macup में कई बार Asbestos और mica जैसे तत्वों की मात्रा रहती है. जिससे स्कीन में इरिटेशन एलर्जी और पिंपल्स हो जाते हैं. रात को सोने के पहले मेकअप को जैंटल शॉप से वॉश करके ऑयल फ्री मॉइश्चराइजर स्किन पर लगानी चाहिए.

क्या नही खाना चाहिए?

जिन लोगों की स्कीन ऑयली है उन्हें मिल्क प्रोडक्ट्स जैसे चीज पनीर दूध की बनी मिठाइयां वाइट शुगर कोला मिल्कशेक और रिफाइंड ऑयल में तले स्नेक्स कम खाना चाहिए.

क्या अपनी ऑइली स्किन पर कोकोनट ऑयल या नारियल का तेल लगाना चाहिए?

नारियल का तेल और हमारे स्किन में जो तेल बनता है उसमें बहुत समानताएं होती हैं इसलिए जब हम कोकोनट ऑयल या नारियल का तेल लगाते हैं तो हमारी स्किन उसे अपना ही बनाया हुआ तेल समझ कर खुद तेल बनाना कम कर देती है इससे धीरे-धीरे स्किन में ऑयल का प्रोडक्शन कम हो जाता है और यह होने से पिंपल्स भी कम हो जाते हैं जब आप शुरुआत में कोकोनेट oil लगाना शुरू करें तो थोड़े दिन तक आपको थोड़ी स्कीन ज्यादा oily लगेगी पर धीरे धीरे वह सब सेटल हो जायेगा .

Oily skin par क्या mask लगाना चहिए?

एक अंडे की सफेदी को लेकर उसमें आधा चम्मच नींबू का रस मिलाएं और फिर अपने फेस पर लगा दे आधे घंटे रहने दे फिर गुनगुने वाटर से फेस को साफ करें इससे oily skin भी कम हो जायेगी इस और स्किन भी आपकी टाइट हो जायेगी.

दूसरा है खीरे के पतले पतले स्लाइस काटकर फेस पर लगाएं और आधा घंटा रहने दें या खीरे के एक टुकड़े को लेकर फेस पर हल्के हाथ से अच्छी तरह रगड़ने और रात भर रहने दे सुबह पानी से मुंह धो कर उस पर वॉटर बेस्ड मॉइश्चराइजर लगाएं.

ताज़े टमाटर के जूस को फेस पर हल्के हाथों से मसाज करके आधे घंटे तक रहने दें फिर वार्म वाटर से धो ले ये process आप रोजाना कर सकते हैं.

Related posts

Leave a Comment